अकबर ने नहीं महाराणा प्रताप ने जीता था हल्दीघाटी युद्ध, पढ़ें- इतिहास का सच

आप सभी बन्धु इतिहास की जानकारी रखते होंगे. आज हम आपको एक एतिहासिक युद्ध के बारे में बताने जा रहे है. राजस्थान के मध्यकालीन इतिहास का सबसे चर्चित युद्ध हल्दीघाटी का युद्ध था जो मुगल बादशाह अकबर और महराणा प्रताप के बीच हुआ था. इस युद्ध के बारे में बताया जाता है की यह युद्ध अकबर ने जीता था. बल्कि हम आपको बतादे की यह युद्ध अकबर ने नहीं महाराणा प्रताप ने जीता था.

सन 1576 में हुए इस भीषण युद्ध महाराणा प्रताप ने अकबर को नाको चने चबाने पर मजबूर किया था और अंत में महाराणा प्रताप ने यह युद्ध जीता था. यह दावा राजस्थान सरकार ने किया है. इस दावे के पीछे सरकार ने प्रसिद्ध इतिहासकार डॉ. चन्द्रशेखर शर्मा के ताजा शोध का हवाला दिया है. डॉ. शर्मा ने इस युद्ध पर गहन शोध किया और अपने शोध सबूतों के आधार पर प्रताप को इस युद्ध का विजेता बताया है.
akbar and maharana pratap war at haldighati
राजस्थान की धरा पर 441 साल पूर्व जो भीषण युद्ध हुआ था उसे आज तक बेनतीजा माना जाता रहा था, पर अब राजस्थान की भाजपा सरकार इस युद्ध का परिणाम बदलने जा रही है. हाल ही राजस्थान विश्वविद्यालय सिंडिकेट की बैठक में भाजपा विधायक और राज्य सरकार के प्रतिनिधि मोहनलाल गुप्ता ने इस युद्ध में महाराणा प्रताप की विजय का मुद्दा उठाया है. उन्होंने कॉलेज शिक्षा पाठ्यक्रम में महाराणा प्रताप की विजय के उल्लेख किए जाने की मांग रखी है. इसके लिए उन्होंने एक शोध का हवाला भी दिया है.

यह बात भी उल्लेखनीय है कि विधायक के इन सुझावों को विश्वविद्यालय के कुलपति पद का अतिरिक्त कार्यभार संभालने वाले संभागीय आयुक्त राजेश्वर सिंह ने भी गंभीरता से लिया है. उन्होंने कहा है कि हल्दीघाटी युद्ध को लेकर आई जो सिफारिशे आई है उन्हें हिस्ट्री बोर्ड ऑफ स्टडीज के पास भेजा जा रहा है. अर्थात यह बोर्ड इसकी जांच करेगा और फिर एकैडमिक काउंसिल को अप्रूवल के लिए भेजेगा. यदि भाजपा विधायक द्वारा की सिफारिशें बोर्ड द्वारा मान ली जाती हैं तो माध्यमिक शिक्षा बोर्ड के पाठ्यक्रम की तरह जल्द ही कॉलेज पाठ्यक्रम में परिवर्तन किया जाना लगभग तय है. उसके बाद इस युद्ध का इतिहास बदलेगा और अकबर महान के स्थान पर महराणा प्रताप को महान पढ़ाया जाने लगेगा.

loading...

दिल से देशी

राष्ट्र सर्वोपरि

One thought on “अकबर ने नहीं महाराणा प्रताप ने जीता था हल्दीघाटी युद्ध, पढ़ें- इतिहास का सच

  • February 12, 2017 at 3:15 am
    Permalink

    Ya BAAT SACH HAI

Comments are closed.