मधुमक्खी के डंक का घरेलु आयुर्वेदिक उपचार best bee sting swelling home remedy treatment in hindi

best bee sting swelling home remedy treatment in hindi दोस्तों आज हम कुछ ऐसे विषय पर चर्चा करने का रहे हैं जिसके बारे में आपने कभी नहीं कभी सामना किया ही होगा. हम बात कर रहे है मधुमक्खी के डंक के बारे में. मधुमक्खी खाद्य श्रृंखला का एक महत्वपूर्ण अंग हैं. दुनिया के मशहूर वैज्ञानिक अल्बर्ट आइंस्टीन ने कहा था कि यदि मधुमक्खियाँ का अस्तिव ख़त्म हो गया तो उसके 4 साल बाद ही मानव का अस्तिव भी समाप्त हो जावेगा. मधुमक्खियाँ घर के आसपास बगीचों में देखी जाती हैं. इसीलिए इनका सामना कभी न कभी हो ही जाता हैं. और यदि यह किसी को काट ले तो अच्छे अच्छे की तबियत ख़राब कर देती हैं क्योंकि इनका डंक बहुत कम समय में तीव्र जलन और दर्द उत्पन कर देता हैं यदि इनका जल्द से जल्द उपचार नहीं किया जाए तो सुजन का कारण भी बन सकता हैं. इसीलिए आज हम आपको बताएँगे कि यदि आपको कभी इन परिस्थितियों से सामना करना पड़ जाए तो आपके दिमाग में यह घरेलु उपयोगी नुस्खे हो जिससे दर्द का तुरंत इलाज किया जा सके.

मधुमक्खी के डंक के लक्षण ( Symptoms of Bee String )

मधुमक्खी के डंक के लक्षण के बारे में सबसे पहले चर्चा करना जरुरी है क्योंकि कई बार तो लोगों को पता ही नहीं होता है ही उनको किसने काटा हैं (bee sting relief home remedy) मधुमक्खी के अलावा किसी विषेले किट ने यदि कटा हो तो यह गलती जानलेवा भी साबित हो सकती हैं. मधुमक्खी का कटा हुआ बेहद आसानी से समझ आ सकता हैं. मधुमक्खी के कटाने पर अत्यंत तीव्र जलन और खुजली होती हैं. और डंक वाली जगह पर लाल रंग का एक छोटा सा तिल जैसा बन जाता हैं. यह देखकर आप आसानी से पता लगा सकते हो कि व्यक्ति को मधुमक्खी ने ही कटा है कि नहीं.

remedy for bee sting

मधुमक्खी के डंक का घरेलु उपचार ( bee sting remedy in hindi / what to do if stung by a bee)

जैसे ही आपके लगे कि आपको मधुमक्खी ने काट लिया है तो सबसे पहले डंक वाली जगह पर लोहा या फिर कोई सख्त वस्तु रगड़ ले. डॉक्टर्स भी इसकी सलाह देते हैं क्योंकि यह रगड़ने से मधुमक्खी का डंक निकल जाता है. जो कि सुजन का कारण बन सकता हैं. जिसके बाद कुछ इस प्रकार के आवश्यक उपचार करें जिनका वर्णन किया गया हैं.

शहद से उपचार

शहद का उपचार आपको तात्कालिक शीतलता प्रदान करता हैं. डंक वाली जगह पर कुछ देर बाद ही जलन होने लग जाती हैं इससे बचने के लिए शहद लगाकर हल्की बैंडेज से बाँध दे.

बेकिंग सोडा

यह भी उपयोगी घरेलु उपचार साबित हो सकता हैं इसमें बेकिंग सोडा और पानी का घोल बनाकर काटे हुए स्थान पर लगाये. यदि एक बारी में इससे राहत ना मिले तो पुनः घोल लगा सकते हैं.

टूथपेस्ट

यह तरकीब बहुत बार करते हुए देखी जा सकती हैं. टूथपेस्ट का प्रयोग भी डंक की जलन से राहत पाने में लाभदायक होता हैं. टूथपेस्ट में मौजूद एल्काइन तत्व डंक की अम्लीयता को शांत कर देता हैं. वैसे टूथपेस्ट बहुत ही कॉमन वस्तु हैं जो कि हर घर में मिल जाती हैं इसका उपयोग आसानी से किया जा सकता हैं.

एलोवेरा

एलोवेरा भी आजकल आसानी से हर घर में पाया जाता हैं इसका उपयोग त्वचा सम्बंधित उपचारों में होता हैं. यदि आपके घर के आस पास एलोवेरा का पौधा हैं तो उसके पत्ते को काटकर उसके अन्दर का जेल जैसा पदार्थ डंक वाली जगह पर लगा सकते हैं इससे जलन में राहत मिल सकती हैं.

इन सभी के बाद एप्पल विनेगर, आलू, पपीता, तुलसी के पत्ते, लेवेंडर का तेल का उपयोग करके भी मधुमक्खी के डंक की जलन से राहत पा सकते हैं.

bee sting first aid home remedy

सुजन का कैसे उपचार करे what to do for bee sting swelling / best remedy for bee sting swelling

मधुमक्खी के काटने और जलन के बाद काटे हुए स्थान पर सुजान आने लग जाती हैं. सुजन को पूर्ण रूप से काबू करना मुश्किल है लेकिन इसे कम किया जा सकता हैं. काटे वाले स्थान पर बर्फ रगड़े. बर्फ रगड़ने से सुजन में कमी आती हैं. और यदि आप कटे हुए स्थान पर अंगूठी, कंगन या ब्रेसलेट पहनते है तो उसे ना पहने क्योंकि सुजन आपने के बाद उन्हें उतारने में परेशानी और दर्द दोनों का सामना करना पड़ेगा.

bee sting swelling treatment in hindi

क्या डॉक्टर के पास जाए? when concern with doctor in bee bite/string

मधुमक्खी का डंक मारना और उसके बाद सुजन आना एक बहुत ही आम बाद हैं अधिकतर मौकों पर उपचार के लिए डॉक्टर के पास नहीं जाना पड़ता हैं. लेकिन ऊपर दिए घरेलु उपचार के बाद भी शख्स को राहत नहीं मिल रही और एलर्जी जैसी समस्या हो रही हैं तो तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें. इसके अलावा डायबिटीज के मरीज भी इसमें एक बार डॉक्टर की सलाह ले ले.

loading...
Shashank Sharma

Shashank Sharma

शशांक दिल से देशी वेबसाइट के डिजाईन, डेवलपमेंट और आर्टिकल के सर्च इंजन की विशेषग्य है. ये इस साईट की एडमिन है. इनको इतिहास और सामान्य ज्ञान से जुड़े आर्टिकल लिखना पसंद है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *