अब राष्ट्र प्रेम व हिन्दू सभ्यता के जयगान से गुंजायमान होगा कनाडा : आचार्य सत्यम आर्य

“हिन्दू सांस्कृतिक केंद्र मिसिसागा” (Hindu Community Centre Mississauga) के तत्वाधान में 11 सितम्बर से 18 सितम्बर 2017 तक होने वाली ‘श्रीमद्द भागवत कथा’ की तैयारिया जोरों से चल रही है. मिसिसागा के पदाधिकारियो ने ‘डॉल्फ़िन पोस्ट ’ को बताया की इस ऐतिहासिक कथा की ख़ास बात यह है की इस कथा में श्रीमद्द भागवत कथा के साथ-साथ राष्ट्र धर्म पर आधारित आचार्य सत्यम आर्य की ओजस्वी वाणी में भारत के महान शहीदों के जीवन चरित्र का बखान किया भी जायेगा. इस कथा में भगवान श्री कृष्ण के राष्ट्र प्रेम का दृष्टान्त प्रस्तुत किया जाएगा. वैसे इस कार्यक्रम को लेकर कनाडा में रह रहे भारतीय लोगो में काफी उत्साह है और काफी बड़ी संख्या में भारतीयों के इकट्ठे होने की भी सम्भावना है. आचार्य सत्यम आर्य अपने जीवन के सभी कार्यक्रम में खासकर केवल राष्ट्र की बात करते है. आचार्य सत्यम आर्य की कथाओं के श्रोता जन काफी समय से आचार्य जी के साथ यूट्यूब के माध्यम से भी जुड़े है उनके लिए ख़ुशी की बात है कि दिल से देशी के फेसबुक पेज के माध्यम से इस कथा का D-Live प्रसारण किया जाएगा.

आचार्य सत्यम आर्य भारत की धरती पर लगभग 1400 से अधिक एक दिवसीय, दो दिवसीय के साथ 3 और 7 दिवसीय कार्यक्रम कर चुके है. इनके कार्यक्रमों की सबसे ख़ास बात है की इनको सुनने वाले लोग बड़े भाव से और समर्पण की भावना से इनको सुनते है. समाज के बुद्धिजीवी व युवा वर्ग आचार्य जी को विषयानुसार सुनते है. जहाँ-जहां आचार्य जी के कार्यक्रम हुए है वहां-वहां पाखंडवाद की जड़े खोखली हो गई है. धर्म की आड़ में व्यवसाय चलाने वाले लोगो के खिलाफ ये महाअभियान है. वर्तमान में सम्पूर्ण भारत की धरती पर ऐसे राष्ट्रवादी वक्ता बहुत कम मिलते है जो सत्य धर्म का प्रचार प्रसार करते है. अपनी जान जोखिम में डालकर मंच से बेबाक सत्य का उच्चारण करने वाले आचार्य जी को सुनना बहुत भाग्य की बात है.

इसे भी पढ़ें: क्या आपको भी है भूलने की बीमारी तो करे ये अद्भुत उपाय

हल्दी घाटी में महाराणा प्रताप की वीर गति के बाद इतिहास की प्रथम “राष्ट्र कथा” आचार्य सत्यम ने की है.

आचार्य सत्यम आर्य के कार्यक्रम से सम्बंधित जानकारी के लिए आप +91-9015660230 पर सम्पर्क कर सकते हैं.

इसे भी पढ़ें: 10 विश्व प्रसिद्द गुफाएँ जिनके बारे में जानकर आपको अपने भारतीय होने पर गर्व होगा

loading...

दिल से देशी

राष्ट्र सर्वोपरि