जानिए गणेशजी के पुत्रों के बारें में यह अद्भुत रहस्य

हिन्दू धर्म के सभी धर्म ग्रंर्थो में परमपिता भगवान शिव की महत्ता का विस्तार से वर्णन किया गया है. भगवान शिव के परिवार के बारें में हम सभी को जो जानकारी है उसके अनुसार भगवान शिव के परिवार में चार सदस्य शिव, पार्वती, गणेश, और कार्तिकेय है किन्तु देवताओं में मात्र भगवान शिव का परिवार ही पूरी तरह से पूर्ण परिवार हैं. इनके अलावा देवताओं के परिवार में कुछ ना कुछ कमी रही हैं.

name of ganesh ji sons

भोलेनाथ के परिवार में उनकी पत्नी पार्वती, उनके पुत्र कार्तिकेय और गणेश हैं किन्तु क्या आप जानते है भगवान शिव की एक पुत्री भी थी जिसका नाम अशोक सुंदरी है, शिवजी की पुत्री अशोक सुंदरी का विवाह राजा नहुष के साथ सम्पन्न हुआ था.

इसे भी देखें:->टेक्सास में गौमाता पर हुए एक शोध के बाद जो बात सामने आई है उसे जानकार आप हैरान रह जायेंगे

name of ganesh ji sons

भोलेनाथ के पुत्र गजानंद को लोग कई नामों से जानते है – गणेश, गजमुख इत्यादि. गणेश जी सभी देवताओं में सबसे अग्रज हैं. गणेश जी का पूजन करने से सभी प्रकार के कष्ट दूर हो जाते है. भगवान विष्णु भी अपने भक्तों को कष्ट दूर करने की लिए गणेश जी की उपासना करने की सलाह देते है. भगवान गणेश जी की दो शादी हुई थी. भगवान गणेशजी की दोनों पत्नियों के नाम क्रमशः रिद्धि और बुद्धि (सिद्धि) हैं. जहां रिद्धि सभी प्रकार के कार्यो में सफलता दिलाती हैं वही बुद्धि मनुष्य में ज्ञान के प्रकाश द्वारा हमारी जिन्दगी को सही राह दिखाती है.

इसे भी देखें:->जानिए एक ऐसे देश के बारें में जहाँ चलती है राम नाम की मुद्रा…

name of ganesh ji sons

लेकिन क्या आप गणेश जी के दो पुत्रो के बारें में जानते है, यदि नही तो हम आपको बता दे कि भगवान गणेशजी के दो पुत्र भी थे. उनके नाम क्षेम (शुभ) और लाभ हैं. क्षेम की कृपा से हमारे जीवन में धन-धान्य, प्रसिद्धि और पुण्यों को सुरक्षित रखते हैं. वहीं दूसरी ओर लाभ हमें जीवन में सभी कार्यो में लगातार सफलता दिलाते है. गणेश जी के दोनों पुत्र हमें जीवन में धन यश और कीर्ति प्रदान करते है.

loading...

दिल से देशी

राष्ट्र सर्वोपरि

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *