क्यों रामनामी समाज के लोग पुरे शरीर पर लिखवाते है राम नाम

भारत विवधताओं से भरा देश है, आज हम बात कर रहे है छत्तीसगढ़ के रामनामी समाज की जो 100 वर्षों से भी अधिक समय से एक विशेष परंपरा का निर्वहन कर रहे है. वह विशेष परंपरा यह है कि रामनामी समाज के लोग अपने पुरे शरीर पर राम नाम के टेटू बनवाते है, वे लोग न तो मंदिर में विश्वास रखते है और ना ही मूर्ति पूजा में. दरअसल इस परंपरा को बगावत के दृष्टि से भी देखा जाता है.ramnami samaj history11

कहा जाता है कि 100 वर्ष पहले ऊँची जाति के लोगो ने इस समाज के लोगो को मंदिरों में घुसने पर पाबन्दी लगा दी थी, ठीक इस घटना के बाद लोगों में विरोध की भावना जागी और लोगो ने अपने चेहरे सहित पुरे शरीर पर राम नाम के टेटू बनवाना शुरू कर दिए.ramnami samaj history9

समाज के लोगो को रमरमिहा नाम से भी जाना जाता है, रामनामी समाज के लाल टंडन कहते है कि:

मंदिरों पर सवर्णों ने धोखे से कब्जा कर लिया और हमें राम से दूर करने की कोशिश की गई. हमने मंदिरों में जाना छोड़ दिया, हमने मूर्तियों को छोड़ दिया. ये मंदिर और ये मूर्तियाँ इन पंडितों को ही मुबारक.

ramnami samaj history7

जाने रामनामी समाज लोगो के समर्पण के बारे में

loading...

दिल से देशी

राष्ट्र सर्वोपरि