स्वस्थ श्रीदेवी की कैसे हुई अचानक मौत? क्या है ये Cardiac Arrest? जानियें

नमस्कार दोस्तों
Shridevi death reason आज पूरा देश श्रीदेवी के अचानक निधन से शोक में डूबा है. एक बेहद उम्दा और खुबसूरत अभिनेत्री जिन्होंने बॉलीवुड को न जाने कितनी Blockbuster पिक्चर दी, उनकी अपेक्षाकृत कम सिर्फ 54 साल की उम्र में मौत हो जाना बहुत दुख की और हैरानी वाली बात है. शुरूआती खबरों में यह बताया जा रहा है कि श्रीदेवी को अचानक Cardiac Arrest से मृत्यु हो गई और उनके देवर ने इस रिपोर्ट की पुष्टि की है. यह एक अचानक होने वाली मौत थी जिसकी किसी को भी उम्मीद नही थी और ये बहुत ही दुखद घटना थी. इस अचानक आने वाले Cardiac Arrest को डॉक्टर्स बताते है की ये बहुत घातक होता है. क्या होता है Cardiac Arrest और क्या है इसके लक्षण? क्या कोई शुरुआती संकेत है? जानिए हमारे साथ विस्तार से..
Shreedevi death reason,

क्या होता है Cardiac Arrest..???| What is Cardiac Arrest

Shreedevi death reason,
दोस्तों सबसे पहले तो आपको बता दे इस अटैक को कहते है ह्रदय गति रुकना (Cardiac Arrest). अचानक आने वाला Cardiac Arrest जिसकी कोई उम्मीद भी नहीं कर सकता वो दिल को बहुत क्षति पहुचाता है. ये दिल के सारे फंक्शन को और सांसो को बहुत नुकसान पहुचाता है. ये ह्रदय में खून को पंप करने में बहुत बाधा उत्पन्न करता है, और परिणामस्वरूप दिल से शरीर की आपूर्ति ही काट देता है. यदि किसी को ये अटैक आता है तो उसे तुरंत अस्पताल ले जाना अति आवश्यक है . इस केस में तत्काल इलाज होना जरुरी है यदि उचित देखभाल नहीं की तो ये अटैक मौत को बुलावा देता है.

इसे भी पढ़े : श्री देवी के निधन पर हुआ सबसे बड़ा खुलासा, सालों से छुपा रखा था इतना बड़ा राज

Heart Attack और Cardiac Arrest में क्या अंतर है..???

Shreedevi death reason,
Cardiac Arrest और दिल के दौरे में बहुत अंतर है. दिल के दौरे में खून का बहाव दिल के किसी एक हिस्से में रोक दिया जाता है जो मांसपेशियों को बहुत नुकसान पहुंचाता है. कभी-कभी दिल का दौरा एक दम से Cardiac Arrest में बदल सकता है.

आचानक होने वाले Cardiac Arrest के क्या लक्षण होते है..???

Shreedevi death reason,
ऐसी कोई बीमारी नहीं होती जो बिना किसी संकेत के होती हो, शरीर में होने वाली सभी बीमारियों के कोई न कोई लक्षण होते है. पर डॉक्टर कहते है की ऐसे अचानक आने वाले Cardiac Arrest हम भी कुछ खास नहीं कह सकते है इसमें चेतावनी के संकेत दे पाना डॉक्टर के लिए भी मुश्किल भरा काम है. लेकिन मेडिकल साइंस में इसको लेकर कुछ संकेत है जिसमे कुछ निम्नलिखित लक्षण शामिल है..
चक्कर आना जो इतने आसानी से बंद नहीं होते
सांसो की कमी होना
दिल की घबराहट होना
छाती में दर्द होना

इसे भी पढ़े :अच्छा तो इतनी दौलत छोड़कर गई श्रीदेवी अपनी बेटियों के लिए, जानिए कितनी है उनकी कुल संपत्ति

महिलाओं में दिल का दौरा और Cardiac Arrest का लक्षण

Shreedevi death reason,
हार्ट अटैक और cardiac arrest के लक्षण महिलाओं और पुरुषों में अलग अलग होते हैं. हालांकि कई लक्षण हैं जो सामान्य होते हैं, वहां विभिन्न मतभेद भी हैं जो डॉक्टरों ने बताया है.. उनमे शामिल है:
– लक्षण अधिक सूक्ष्म और अधिक अस्पष्ट हो सकते हैं
– छाती में दर्द प्राथमिक दर्द नहीं हो सकता है और थकान, पीठ, गर्दन और कंधों में दर्द भी हो सकता है.
– महिलाओं में तंग धमनी रुकावटें बहुत आम नहीं हैं लेकिन ये पुरुष हैं
– इन मतभेदों का कारण यह हो सकता है कि महिलाओं को गर्भावस्था के दौरान उच्च रक्तचाप की समस्या उनके जीवन में विकसित हो सकती है.
Shreedevi death reason,

Cardiac Arrest को बढ़ावा देने वाले रोग

हमारी जीवनशैली ही इस जोखिम का कारक हैं जो cardiac arrest की संभावनाओं को बढ़ाते हैं. इनमें निम्न शामिल हैं:
– उच्च रक्तचाप या उच्च रक्तचाप की समस्या
– मधुमेह
– धूम्रपान
– उच्च कोलेस्ट्रॉल का स्तर
– बिलकुल नहीं या बहुत कम शारीरिक गतिविधि
– अधिक वजन या मोटापा

इसे भी पढ़े :मौत के बाद दुबई से आयी श्रीदेवी की डेड बॉडी, पहली तस्वीर देखकर आपका दिल भी नम हो जाएगा, देखिये तस्वीरे

अचानक Cardiac Arrest के लिए प्राथमिक उपचार

Shreedevi death reason,
अचानक cardiac arrest के मामले में, रोगी को तत्काल चिकित्सा सहायता दी जानी चाहिए. आपको जल्द से जल्द डॉक्टर से बुलाना चाहिए. कार्डियोपल्मोनरी रिजसिटेशन (सीपीआर) का प्रशासन मदद कर सकता है या डॉक्टर भी डीफिब्रिलेटर के साथ इलाज कर सकते हैं. अगर आप सहायता आने के लिए की प्रतीक्षा करते हो तो आप तब तक मरीज के सीने में दबाव डाल सकते हैं यदि उचित कदम उठाए जाते हैं, तो बचाना संभव है.

loading...
Kailash Vaishnav

Kailash Vaishnav

He is writer at dilsedeshi.com. He is working as a Digital Marketing Analyst.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *