दान देते समय ध्यान देने योग्य कुछ बातें जो आपको जानना चाहिए..

दान का शाब्दिक अर्थ है – ‘देने की क्रिया’. सभी धर्मों में सुपात्र को दान देना परम् कर्तव्य माना गया है. हिन्दू धेम में दान की महिमा अधिक है. दान देने से व्यक्ति को जिंदगी से कई तरह की समस्याओं से छुटकारा मिलता है. लेकिन हम कई बार इंसान नासमझी या भूल में ऐसी वस्तुओं का दान कर देता है, जो फायदे की जगह नुकसान पहुंचा देती है. इन वस्तुओं का दान अपके लिए पुण्य की जगह पाप का कारण बन सकता है. आइए जानते है वे वस्तुएं कौन-सी हैं और उनका दान करने से आपको किन परेशानियों को झेलना पड़ सकता है.

you need to know some things to consider when you donate-dilsedeshi (2)

स्टील के बर्तन-

हमें कभी भी स्टील से बनी किसी भी वस्तु का दान करने से बचना चाहिए. धर्म शास्त्रों में कहीं भी स्टील का दान करने का उल्लेख नहीं है.

नुकसान – जब हम स्टील को दान में देते है तो हमारे की सुख-शांति ख़त्म होती है, साथ ही दान देने वाले के संबंधों पर भी बुरा असर पड़ता है.

झाडू-

झाड़ू को भी कभी दान नही करना चाहिए. झाडू दान करना भी अशुभ फलदायक माना जाता है.

नुकसान – झाडू दान देने से लक्ष्मी जी रूठ जाती हैं. इससे घर में पैसा नहीं टिकता. व्यापर में नुकसान होता है और बचत ख़त्म होने लगती है.

प्लास्टिक की चीज़ें-

आज-कल हम घरो में प्लास्टिक की कई चीज़ें प्रयोग करते है. उन चीज़ों को खुद ख़रीदा जाए तो ठीक है, लेकिन किसी को दान नहीं करना चाहिए.

नुकसान – प्लास्टिक की वस्तुए एवम् प्लास्टिक का दान करना घर की तरक्की और बिज़नेस के लिए अशुभ माना जाता है.

खराब या उपयोग किया गया तेल-

तेल दान करना शनि की शांति के लिए अच्छा होता है, इसके विपरीत खराब या उपयोग किया गया तेल दान करना अशुभ फलों का कारण बनता है.

नुकसान – जब हम खराब या उपयोग में लिया हुआ तेल दान करते है तो इससे शनिदेव प्रसन्न होने के बजाय नाराज़ होते हैं. घर में क्लेश बढ़ता है और कोई भी विपत्ति आ जाती है.

पहने हुए कपड़े-

जब कोई किसी पंडित या संपन्न व्यक्ति को पुराने कपड़ों को दान देता है तो अशुभ होता है. हालांकि किसी जरूरतमंद को ये दिए जा सकते हैं, लेकिन इसका स्वरुओ दान का नही होगा.

नुकसान – ऐसा करने से लक्ष्मी जी आपसे रूठ सकती है और आपको पैसों से सम्बन्धित परेशानी झेलनी पड़ सकती है.

बासी खाना –

ताज़ा खाना दान करना अच्छा माना जाता है, लेकिन बासी खाना दान करना अशुभ माना जाता है. चूँकि बासी खाने को भी किसी जरूरतमंद को खिला सकते है पर इसका स्वरुप दान का नही हो सकता है.

नुकसान – बासी या खराब खाना दान देने से घर के सदस्य बीमार होने लगते हैं. विवाद बड़ते है और कोर्ट-कचहरी में पैसा खर्च होता हैं.

फटे हुए ग्रन्थ या कॉपी-किताब-

कॉपी-किताब या धार्मिक ग्रंथों को भी दान करना शास्त्रों में अच्छा माना गया है. लेकिन यदि वे फटे हुए हो तो फिर उनका दान करने से बचना चाहिए.

नुकसान – फटे हुए ग्रंथ या पुस्तकें दान करने से कामों में रुकावट आती हैं. दान देने वाला गलत फैसले लेता है. वह कभी भी कार्यो में सफल नही हो पाता है.

धारदार या नुकीली चीज़ें-

धारदार या नुकीली वस्तुए जैसे पेननाइफ़, चाकू, कैंची, तलवार आदि दान में देना आपके लिए बद्किस्म्तीं का कारण बन सकता है.

नुकसान – ऐसा करना परिवार की सुख-शांति को भंग करता है. घर के लोगों के बीच तनाव बढ़ता है और संबंधों में दरार आती है.

loading...

दिल से देशी

राष्ट्र सर्वोपरि