42 डिग्री तापमान में राहगीरों को रूह अफ़ज़ा पिला रहे है सिख समाज के लोग.. राहत की साँस

हैदराबाद (सिख गांव) में जब पारा 42 डिग्री सेल्सियस पैमाने पर जा पहुंचा, तब लोगों के समूह (सिख गुरुद्वारा गांव से) ने सड़क पर जा रहे सभी राहगीरों को रूह अफ़जा (गुलाब का रस) का वितरण किया।

people-helps-to-everyone-moving-on-the-road2

वितरण सुबह 11 बजे से शुरू किया गया और दोपहर 2 बजे पूरा हुआ।

people-helps-to-everyone-moving-on-the-road1

इस भारी गर्मी में हमारी तरह अनेक लोग आराम फरमाते है और कूलर, A.C. का आनंद ले रहे थे तब ये लोग घर से निकल कर हर राहगीर को राहत का पानी पिलाने में लगे थे.

people-helps-to-everyone-moving-on-the-road3

मुख्य बात यह भी थी कि वितरण में बच्चे भी अपनी पूरी भागीदारी निभा रहे थे.

people-helps-to-everyone-moving-on-the-road4

चाहे धर्म की बात हो

people-helps-to-everyone-moving-on-the-road5

चाहे क्लास की बात हो

people-helps-to-everyone-moving-on-the-road6

हमारे रक्षक

people-helps-to-everyone-moving-on-the-road7

सार्वजनिक परिवहन तक पहुंचे..

people-helps-to-everyone-moving-on-the-road10
people-helps-to-everyone-moving-on-the-road11

कुछ लोगों ने अपने वाहनों को पार्क कर वितरण में साथ देना शुरू कर दिया.

people-helps-to-everyone-moving-on-the-road8

हालाँकि इस बीच एक छोटी सी असुविधा भी हुई, लोग ट्रैफिक में हॉर्न बजाने की बजाये हलकी सी मुस्कान दे रहे थे.

people-helps-to-everyone-moving-on-the-road9

यह कोई बहुत बड़ा काम नहीं था, अपितु ऐसे छोटे छोटे कार्यों से ही भारत की तस्वीर बदल सकती है. चेहरों पर मुस्कान लाने की पूरी कोशिश की है इन बच्चों ने. हम ऐसे कदम सहज ही उठा सकते है. भारत अवश्य बदलेगा.

people-helps-to-everyone-moving-on-the-road12

loading...

दिल से देशी

राष्ट्र सर्वोपरि