जानिए पत्तल पर खाना खाने के ये 5 अद्भुत फायदे….

आजकल हम स्टील या प्लास्टिक की बनी हुई प्लेटो में खाना खाते है. स्टील की थाली का चलन आज बहुतायत में हो गया है. आजकल सभी बर्तन स्टील के आने लगे है. पुराने समय में पत्तल में खाना खाया जाता था. कई प्रकार के पत्तों से पत्तल बनाई जा सकती थी, और इन्ही पत्तलों पर खाना खाया जाता था. घर में तो ठीक है किन्तु किसी भी मांगलिक कार्य या विवाह आदि में तो पत्तल में ही खाना खाने व खिलाने का रिवाज था.

pattal done ke vaiyanik fayde3

किन्तु अब समय के साथ-साथ इनका चलन कम हो गया है और इनका स्थान प्लास्टिक की प्लेटो ने ले लिया है. आजकल कागज की पत्तल भी प्रचलन में दिखाई देती है. पत्तल पर खाना खाना सुविधा की दृष्टि से तो लाभप्रद है, किन्तु पत्तल पर खाना खाना हमारे स्वास्थ्य के लिए भी फायदेमंद है. पत्तल पर खाना खाने के अनेक फायदे है.

pattal done ke vaiyanik fayde3

आइये जानते हैं पत्तल पर खाना खाने के पांच महत्वपूर्ण फायदे–

1. बेहतर स्वास्थ्य और स्वास्थ्य से जुड़े कई फायदों के लिए केले के पत्ते से बनी पत्तल पर भोजन करना बहुत ही लाभकारी माना जाता है, इसी कारण से आज भी दक्षिण भारत में ज्यादातर स्थानों पर केले के पत्ते की पत्तल पर खाना परोसा जाता है.

2. पत्तल पर खाना खाने से, बवासीर, लकवा, एवं पाचन से संबंधी रोगों से सुरक्षा मिलती है. और यदि किसी व्यक्ति को ऐसी समस्या हो जाती है तो उसमें पत्तल पर भोजन करना काफी लाभदायक है. पत्तल पर खाना खाने से जोड़ों के दर्द की समस्या भी कम होती है.

pattal done ke vaiyanik fayde3

3. पलाश के पत्तों से बनी थाली पत्तलों में खाना खाने से शरीर की प्रतिरोधक क्षमता में वृद्धि होती है कफ, कृमि, अपच खांसी व पेट से संबंधी व रक्त संबंधी बहुत-सी बीमारियां होने की संभावना न्यूनतम हो जाती है.

4. पत्तल पर खाना खाने से हमें दो प्रकार के फायदे होंगे, एक तो हम पैसों की बचत करेंगे वही दूसरी ओर पानी की भी बचत होगी क्योंकि हमें पत्तलों को धोने की जरूररत नहीं पड़ेगी. पत्तलों को जमीन में डालकर उसकी खाद भी बनाई जा सकती है.

5. पत्तल पर भोजन करने से आपको भोजन के साथ ही उस वृक्ष से संबंधित सभी औषधीय गुण भी प्राप्त हो जाते हैं और पत्तल पर खाना खाने से मानसिक शांति भी प्राप्त होती है.

इसे भी पढ़ें: यह 15 देशी नुस्खे आपकी हर बिमारी का इलाज करने में सक्षम है.

अतः हमें पत्तल पर खाना खाने के महत्व ओर उसकी उपयोगिता पर जोर देना चाहिए. जिससे हम पानी और पैसो की भी बचत कर सकें.

दिल से देशी

राष्ट्र सर्वोपरि