वह भारतीय आविष्कार जिन्होंने दुनिया बदल कर रख दी | List of Indian Inventions and Discoveries in Hindi

वह आविष्कार जो भारत ने दुनिया को दिए हैं | List of Indian Inventions and Discoveries in Hindi

भारतीय इतिहास ज्ञान, विज्ञान, कला चिकित्सा हर क्षेत्र में अग्रणी रहा है. प्राचीन भारतीय वैज्ञानिकों के बुद्धिमत्ता का लोहा पूरा विश्व मानता है दुनिया को भारत ने बहुत कुछ दिया है.

दुनिया के सबसे महान वैज्ञानिक अल्बर्ट आइंस्टीन ने एक बार कहा था कि “हम सब भारतीयों के ऋणी हैं जिन्होंने हमें गिनती करना सिखाया इसके बिना किसी भी खोज की कल्पना तक नहीं की जा सकती है.”

तो चलिए दोस्तों आज हम बात करेंगे कुछ ऐसे खोजों और आविष्कारों की जो दुनिया को भारत की देन है.

शून्य और दशमलव

List of Indian Inventions and Discoveries in Hindi

गणित के क्षेत्र में शून्य और दशमलव का अपना विशेष महत्व है. ऐसा माना जाता है कि शून्य का आविष्कार भारत में हुआ है. ईसा पूर्व मिले दस्तावेजों से ऐसी जानकारी मिलती है कि 1200-1600 ईसा पूर्व में शून्य और दशमलव प्रणाली भारतीयों द्वारा उपयोग की जाने लगी थी. बाद में यह अरब से होते हुए यूरोप तक पहुंची.

शतरंज

List of Indian Inventions and Discoveries in Hindi

अपने बुद्धि और कौशल को दर्शाने वाला यह खेल भारत में छठी सदी में जन्मा. यूरोप में यह खेल लगभग 15 वी शताब्दी के आसपास प्रारंभ हुआ.

रेडियो वायरलेस संचार

List of Indian Inventions and Discoveries in Hindi

यह माना जाता है कि वायरलेस संचार निकोलस मार्कोनी ने खोजा था लेकिन मार्कोनी के आविष्कार के 2 वर्ष पहले जे.सी. बसु ने कोलकाता में लोगों को रेडियो तरंगों से बना एक उपकरण प्रदर्शित किया था.

बटन

List of Indian Inventions and Discoveries in Hindi

जब सिंधु घाटी सभ्यता में मोहनजोदड़ो की खुदाई की गई तो वहां बटनों का अस्तित्व सामने आया इसका उपयोग सजावट में होता था. इन बटनो के सेंटर में दो छेद बने हुए थे.

चांद पर पानी

List of Indian Inventions and Discoveries in Hindi

बहुत कम लोगों को यह पता होगा कि चांद पर पानी है या नहीं. यह बात दुनिया को बताने वाला देश भारत है. भारत के द्वारा, भारत में बनाया गया चंद्रयान ने दुनिया को सबसे पहले यह खोज करके बताया था कि चांद में पानी का अस्तित्व है.

लौह स्तंभ दिल्ली

List of Indian Inventions and Discoveries in Hindi

दुनिया का पहला लौह स्तंभ भारत की उन्नत इस्पात और धातु तकनीक का नमूना है. यह स्तंभ चंद्रगुप्त द्वितीय (375-413) के बीच बनाया गया हैं. यह इतना शुद्ध है कि इसमें एक खरोच आ गई थी जो आज तक वैसे ही स्पष्ट दिखाई दे रही है इसमें जंग नहीं लगा. उस वक्त जब दुनिया शुद्ध लोहा बनाने की तकनीक सीख रही थी, तब भारत के पास ऐसी तकनीक थी, जो दुनिया के लिए आश्चर्य की बात है.

फ्लश टॉयलेट

List of Indian Inventions and Discoveries in Hindi

हड़प्पा और मोहनजोदड़ो की खुदाई पर ऐसे बहुत से टॉयलेट मिले हैं जो यह बताते हैं कि उन सभ्यताओं द्वारा काफी उन्नत किस्म के टॉयलेट उपयोग किए जाते थे जो आज के जमाने में उपयोग होने वाले Flash टॉयलेट से काफी मिलते जुलते हैं.

बिजली का अविष्कार

List of Indian Inventions and Discoveries in Hindi

जी हाँ दोस्तों, हम सब यही जानते है कि बिजली का आविष्कार थॉमस एडिसन ने किया हैं. पर क्या आप जानते है की महर्षि अगस्त्य जो एक वैदिक ॠषि थे, उन्होंने एक श्लोक के द्वारा बिजली बनाने की विधि बताई थी.

एडिसन ने एक घटना का ज्रिक करते हुए कहा था एक रात वो संस्कृत का श्लोक का मतलब सोचते-सोचते सो गए, तभी रात के सपने में उन्हें उस श्लोक का मतलब समझ आया, जिससे उन्हें बिजली बनाने में मदद मिली.
श्लोक इस प्रकार है

संस्थाप्य मृण्मये पात्रे

ताम्रपत्रं सुसंस्कृतम्‌. छादयेच्छिखिग्रीवेन चार्दाभि: काष्ठापांसुभि:॥

दस्तालोष्टो निधात्वय: पारदाच्छादितस्तत:. संयोगाज्जायते तेजो मित्रावरुणसंज्ञितम्‌॥

-अगस्त्य संहिता

अर्थात : एक मिट्टी का पात्र लें, उसमें ताम्र पट्टिका (Copper Sheet) डालें तथा शिखिग्रीवा (Copper Sulphate) डालें, फिर बीच में गीली काष्ट पांसु (wet saw dust) लगाएं, ऊपर पारा (mercury) तथा दस्त लोष्ट (Zinc) डालें, फिर तारों को मिलाएंगे तो उससे मित्रावरुणशक्ति (Electricity) का उदय होगा.

तो दोस्तों ये कुछ खोजे हैं जो भारत के गौरव का बखान कर रही हैं. आपको यह लेख कैसा लगा हमें कमेंट करके अवश्य बताएं.

इसे भी पढ़े : पृथ्वी पर है पांच ऐसी जगह जहाँ पर गुरुत्वाकर्षण बल हो जाता है लगभग शून्य

इसे भी पढ़े : कैसे प्राप्त हुई हनुमानजी को अपार शक्तियां, जिससे बने वो परम शक्तिशाली

Shashank Sharma

Shashank Sharma

शशांक दिल से देशी वेबसाइट के कंटेंट हेड और SEO एक्सपर्ट हैं और कभी कभी इतिहास से जुडी जानकारी पर लिखना पसंद करते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *