कुमार विश्वास की जीवनी | Kumar Vishwas biography in Hindi

नमस्कार दोस्तों
Kumar Vishwas biography in Hindi आज हम आपके लिए लाये है एक ऐसे व्यक्ति की जीवनी जिसने अपनी करियर की शुरुआत ऐसी परिस्थिति में की थी जब उन्हें अपने परिवार और अपनी इच्छा के बीच कुछ चुनना था. वो खुद भी नहीं जानते थे उनकी लाइफ का ये फैसला आज उन्हें इस जगह और इस मुकाम पर ले आएगा. जी हाँ, दोस्तों हम बात कर रहे है देश के महान कवियों में से एक डॉ. कुमार विश्वास की जिन्होंने इस मोर्डन ज़माने में भी लोगो को अपनी कविताओ का दीवाना बना रखा है. तो आइये आपको बताते है उन्होंने आखिर कहाँ से कैसे शुरुआत की थी.
Kumar Vishwas Biography in hindi

डॉ. कुमार विश्वास की जीवनी /Kumar Vishwas Biography in hindi

डॉ. कुमार विश्वास का जन्म 10 फरवरी 1970 को गाजियाबाद, उत्तरप्रदेश में हुआ था. डॉ. कुमार विश्वास के पिताजी का नाम डॉ. चंद्रपाल शर्मा है जो पेशे से एक शिक्षक रहे है. उनकी माता श्रीमती रमा शर्मा एक घरेलु महिला है. कुमार के कुल 5 भाई बहन है जिनमे 4 भाई और एक बहन है और कुमार इन सब से छोटे है. कुमार ने अपनी शुरुआती शिक्षा लाला गंगा विद्यालय से ग्रहण की जो गाजियाबाद में स्थित है. कुमार के पिताजी का सपना था की उनका बेटा पढ़ लिखकर एक इंजिनियर बने और इसीलिए कुमार का एडमिशन इंजीनियरिंग कॉलेज में करा दिया. लेकिन कुमार का दिमाग उन मशीनों में नहीं लगता था. कुमार अपनी ज़िन्दगी में कुछ और करना चाहते थे. इसीलिए उनकी उनके पापा से कुछ खास बनती नहीं थी.
Kumar Vishwas Biography in hindi
Kumar Vishwas Biography in hindi

डॉ. कुमार विश्वास ने आखिरकार फैसला ले लिया और उन्होंने अपनी इंजीनियरिंग की पढ़ाई बीच में ही छोड़ दी. उनकी इच्छा हिंदी साहित्य में कुछ करने की थी तो उन्होंने उससे सम्बंधित उन्होंने अपनी पढ़ाई शुरू की और हिंदी साहित्य में ग्रेजुएशन कर लिया. उसके बाद उन्होंने “कौरवी लोकगीतों में लोकचेतना “ महारत हासिल कर ली यानी उस विषय में पीएचडी कर ली. आपको बता दे कुमार शुरुआत में जब कवि सम्मलेन के लिए जाते थे तो पैसे बचाने के लिए ट्रक से लिफ्ट लेकर घर आया करते थे.

Kumar Vishwas Biography in hindi

डॉ.कुमार विश्वाश के करियर की शुरुआत

Kumar Vishwas Biography in hindi
शुरुआत में कुमार ने अपने पिताजी की तरह अपना करियर एक शिक्षक बनकर शुरू किया. कुमार 1994 में राजस्थान के एक विश्वविध्यालय में शिक्षक के रूप में काम किया करते थे. धीर-धीरे उन्होंने अपने hindi साहित्य के ज्ञान को कविता में लाना शुरू किया और फिर देखते ही देखते कुमार का अच्छा नाम होने लगा. आज कुमार विश्वाश के ब्रांड की तरह है जो बच्चो, बड़ो और बूड़ो सभी में अपनी एक अलग चमक बिखरे हुए है. जितना कुमार अपने देश में प्रचलित है उतने ही विदेशो में भी है. कई देशो में जाकर अपनी कविताओ की चांदनी बिखेर चुके है. आज डॉ. कुमार विश्वास अपने किसी भी शो के लाखो रुपये चार्ज करते है. कुमार कहते है की उन्हें खुद नहीं पता था की एक कवि होकर इतने बड़े मुकाम पर पहुँच जाएँगे.

Kumar Vishwas Biography in hindi

राजनीतिक जीवन

Kumar Vishwas Biography in hindi
2011 में जनलोकपाल बिल को लेकर विरोध चल रहा था उस समय डॉ. कुमार विश्वास भी अन्ना हजारे के साथ कंधे से कन्धा मिलकर चल रहे थे. उसी समय से कुमार के राजनितिक जीवन की नीव स्थापित हो चुकी थी. उसके बाद कुमार ने अरविंद केजरीवाल के साथ मिलकर 26 नवम्बर 2012 को आम आदमी पार्टी (AAP) का गठन किया. कुमार वर्तमान में AAP पार्टी के राष्ट्रिय कार्यकारणी के सदस्य है. कुमार ने 2014 में अमेठी से लोकसभा चुनाव राहुल गाँधी के खिलाफ लड़ा पर वो हार गये. डॉ. कुमार विश्वास अभी हाल ही में राजस्थान के प्रभारी नियुक्त हुए है.

Kumar Vishwas Biography in hindi

कुमार विश्वास की उपलब्धियां

Kumar Vishwas Biography in hindi
वैसे तो कुमार विशवास कई पत्रिकाओ के लिए लिखते रहते है जो की छपते भी रहते है पर इनके आलावा अब तक कुमार की 2 पुस्तक भी प्रकाशित हो चुकी है. विख्यात लेखक स्वर्गीय धर्मवीर भारती ने डॉ॰ विश्वास को इस पीढ़ी का सबसे ज़्यादा सम्भावनाओं वाला कवि कहा है. प्रथम श्रेणी के हिन्दी गीतकार ‘नीरज’ जी ने उन्हें ‘निशा-नियामक’ की संज्ञा दी है. मशहूर हास्य कवि डॉ॰ सुरेन्द्र शर्मा ने उन्हें इस पीढ़ी का एकमात्र आई एस ओ: 2006 कवि कहा है.

Kumar Vishwas Biography in hindi

डॉ. कुमार विश्वास को मिले पुरुस्कार

1) डॉ॰ कुंवर बेचैन काव्य-सम्मान एवम पुरस्कार समिति द्वारा 1994 में ‘काव्य-कुमार पुरस्कार’

2) साहित्य भारती, उन्नाव द्वारा 2004 में ‘डॉ॰ सुमन अलंकरण’

3) हिन्दी-उर्दू अवार्ड अकादमी द्वारा 2006 में ‘साहित्य-श्री’

4) डॉ॰ उर्मिलेश जन चेतना मंच द्वारा 2010 में ‘डॉ॰ उर्मिलेश गीत-श्री’ सम्मान

Kumar Vishwas Biography in hindi

डॉ. कुमार विश्वास अभी तक के सबसे प्रचलित कवियों में से एक उन्होंने अपना जोहर हर जगह दिखाया है. बड़े से बड़े कॉलेज में इनके कवि सम्मलेन होते रहते है. यहाँ तक की कुमार अपने कवि सम्मलेन के लिए विदेश भी जाते रहते है. कुमार एक बहुत व्यस्त कवि है.

loading...
Kailash Vaishnav

Kailash Vaishnav

Hello, this is Er. Kailash Vaishnav some time i write my experiences as a Blog. So keep Reading and Ask Question if you have about this Article.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *